Shree Ramacharitamanas Prashnavali Answer



Lord Rama's answer to your question

बरुन कुबेर सुरेस समीरा। रन सन्मुखधरि काहु न धीरा॥

यह प्रसंग लंका कांड से लिया गया है ।इसमें रावण वध पर उनकी पत्नी मंदोदरी विलाप कर रही है।

अर्थ:- कार्य पूरा होने मे संदेह है | अत: इसे त्यागना ही श्रेयकर है ।

UNLIKELY SUCCESS. LEAVE THE MATTER TO ALMIGHTY.

You have a serious Question Don't Wait Get answer NOW !